दक्षिण-पश्चिमी दिल्ली के झटीकरा गांव का गौरव त्यागी अपनी पत्नी पर जानलेवा हमला करने के बाद सलाखों के पीछे

दक्षिण पश्चिमी दिल्ली के झटीकरा गांव का गौरव त्यागी अपनी पत्नी पर जानलेवा हमला करने के बाद सलाखों के पीछे

दक्षिण पश्चिमी दिल्ली के झटीकरा गांव का गौरव त्यागी अपनी पत्नी पर जानलेवा हमला करने के बाद सलाखों के पीछे

तीन हफ्ते तक फरार होने के बाद आख़िरकार छावला पुलिस ने किया काबू

नई दिल्ली, अप्रैल 23 (दिल्ली क्राउन): दक्षिण पश्चिमी दिल्ली के नजफगढ़ के पास स्थित झटीकरा गांव का एक बत्तीस वर्षीय निवासी गौरव त्यागी अपनी पत्नी पर जानलेवा हमला करने के जुर्म में आज सलाखों के पीछे है।

द्वारका पुलिस के अंतर्गत आने वाले छावला पुलिस थाने के SHO पंकज कुमार के नेतृत्व में पुलिस की एक टीम ने गौरव त्यागी को जुर्म करने के तीन हफ़्तों के बाद धर दबोचा।

गौरव त्यागी पेशे से एक मैकेनिकल इंजीनियर है और फिलहाल अपने गांव के पास ही DTC के रेवला डिपो में कार्यरत है।

पुलिस के अनुसार, गौरव त्यागी ने, जो कि बहुत गुस्से वाला इंसान है, 1 अप्रैल की रात को किसी घरेलु झगडे के चलते अपनी पत्नी की हत्या करने के इरादे से उसका गाला घोंट दिया। और, उसको मरी समझ कर मौके से फरार हो गया।

उसके घर से फरार होने के बाद उसकी पत्नी होश में आई और १०० नंबर पर पुलिस को इत्तला दी। छावला थाने से पुलिस मौके पर पहुंची और गौरव त्यागी की पत्नी का ब्यान दर्ज कर दफा 307 के तहत मुकदमा दर्ज कर दिया।

अपनी कुशलता का परिचय देते हुए छावला पुलिस ने गौरव त्यागी को पकड़ने की धरपकड़ तेज कर दी, लेकिन लगभग तीन हफ़्तों तक कथित अपराधी पुलिस की आँखों में धुल झोंकने में कामयाब रहा।

आखिरकार बृहस्पतिवार को छावला थाना SHO पंकज कुमार के नेतृत्व में गौरव त्यागी को पूर्वी दिल्ली के शाहदरा क्षेत्र से दबोच ही लिया।

गिरफ्तारी के बाद कथित अपराधी को छावला थाने लाया गया और बाद में द्वारका कोर्ट में पेश किया गया। फिलहाल गौरव त्यागी सलाखों के पीछे है और कम से कम तीन महीने तक जमानत मिलने की कोई संभावना नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.