रोहिणी कोर्ट में हुआ था आईईडी ब्लास्ट, दिल्ली पुलिस को मिले सुराग

जांच अब भी जारी है

नई दिल्ली, 11 दिसंबर (दिल्ली क्राउन): दिल्ली पुलिस को मिले सुरागों के मुताबिक रोहिणी कोर्ट में हुआ धमाका लैपटॉप ब्लास्ट नहीं बल्कि आईईडी ब्लास्ट था। धमाके में तीन सौ ग्राम विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया था। बताया जा रहा है की इसे टिफिन बॉक्स में रखा गया था। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि इसे सुचारू रूप से तैयार नहीं किया गया था, जिसके कारण बड़ा हादसा होने से टल गया।

अभी तक की जांच में पुलिस को विस्फोटक रखने वाले के बारे में कोई महत्वपूर्ण सुराग हाथ नहीं लगा है। हालांकि सीसीटीवी कैमरे की जांच के अनुसार पुलिस का कहना है कि कैमरे में कई लोग काले बैग लेकर जाते दिखे हैं। उन सभी लोगों के बारे में पुलिस जानकारी हासिल कर रही है और जल्दी ही उनपर जांच बैठाई जायेगी। पुलिस कोर्ट परिसर में लगे 70 कैमरों लगे थे सभी कैमरों की अच्छे से छानबीन की जा रही है।

बताया जा रहा है कि इन दिनों कोर्ट में गैंगस्टर मंजीत महाल की पेशी होनी थी। इसको लेकर भी इस तरह की घटना को अंजाम दिया जा सकता है। पुलिस इस पहलू को भी ध्यान में रखकर जांच कर रही है।पुलिस अधिकारियों का कहना है कि घटनास्थल से मिले सैंपल को एनएसजी की टीम जांच के लिए ले गई है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही पुलिस धमाके के बारे में आधिकारिक तौर पर कुछ बता पाएगी।

सूत्रो के मुताबिक विस्फोटक में तीन सौ ग्राम अमोनियम नाइट्रेट, बैटरी, तार और पहली बार बम में छोटे स्क्रू का इस्तेमाल किया गया है। साथ ही बम में शीशे के टूकडे भी डाले गए हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि जिस तरह से बम को तैयार किया गया था, उससे काफी ज्यादा नुकसान हो सकता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.